स्टार न्यूज़ एजेंसी
नई दिल्ली. जम्मू एवं कश्मीर में सीमा के उस पार से भारत विरोधी दुष्प्रचार करने की सूचना मिल रही है। पड़ोसी देशों द्वारा किए जा रहे भारत-विरोधी दुष्प्रचार को नाकाम करने के लिए आकाशवाणी और दूरदर्शन दोनों द्वारा अनेक कार्यक्रम प्रसारित किए जाते हैं।

सूचना और प्रसारण राज्य मंत्री सी.एम.जातुया ने आज एक सवाल के जवाब में लोकसभा को बताया कि प्रसार भारती ने सूचित किया है कि पड़ोसी देशों के कार्यक्रमों को भारत में भी प्राप्त किया जाता है। इसके अतिरिक्त, पड़ोसी देशों के कुछ कार्यक्रम उनके विदेशी सेवा के एक भाग के रूप में प्राप्त हो रहे हैं।

उन्होंने कहा कि आकाशवाणी और दूरदर्शन नेटवर्कों की कवरेज का सुदृढीक़रण एक सतत प्रक्रिया है। समय-समय पर आवश्यकतानुसार सरकार द्वारा सीमवर्ती क्षेत्रों में नए उच्च शक्तिअल्प शक्ति आकाशवाणीदूरदर्शन ट्रांसमीटरों और एफएम ट्रांसमीटरों की स्थापना करने संबंधी प्रस्तावों पर विचार एवं अनुमोदन किया जाता है। दूरदर्शन एवं आकाशवाणी की सेवाओं के विस्तार के लिए सितंबर, 2007 और मई, 2006 में क्रमश: जम्मू और कश्मीर विशेष पैकेज चरण-2 और पूर्वोत्तर पैकेज चरण-2 का अनुमोदन किया गया है। दूरदर्शन की फ्री-टु-एयर डीटीएच सेवा 'डीडी डायरेक्ट प्लस' के माध्यम से बहु चैनल आकाशवाणी और टीवी कवरेज समस्त देश में मुहैया कराई गई है। लघु आकार की अभिग्रहण इकाइयों की मदद से पूर्वोत्तर राज्यों और जम्मू एवं कश्मीर राज्यों सहित देश में कहीं भी डीटीएच सिगनलों को प्राप्त करना संभव है।

एक नज़र

कैमरे की नज़र से...

Loading...

ई-अख़बार

Blog

  • अल्लाह की रहमत से ना उम्मीद मत होना - ऐसा नहीं है कि ज़िन्दगी के आंगन में सिर्फ़ ख़ुशियों के ही फूल खिलते हैं, दुख-दर्द के कांटे भी चुभते हैं... कई बार उदासियों का अंधेरा घेर लेता है... ऐसे में क...
  • एक दुआ, उनके लिए... - मेरे मौला ! अपने महबूब (सल्लल्लाहु अलैहि वसल्लम) के सदक़े में मेरे महबूब को सलामत रखना... *-फ़िरदौस ख़ान*
  • राहुल ! संघर्ष करो - *फ़िरदौस ख़ान* जीत और हार, धूप और छांव की तरह हुआ करती हैं. वक़्त कभी एक जैसा नहीं रहता. देश पर हुकूमत करने वाली कांग्रेस बेशक आज गर्दिश में है, लेकिन इसके ...

Like On Facebook

एक झलक

Search

Subscribe via email

Enter your email address:

Delivered by FeedBurner

इसमें शामिल ज़्यादातर तस्वीरें गूगल से साभार ली गई हैं