स्टार न्यूज़ एजेंसी 
नई दिल्ली. पर्यावरण एवं वन राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) जयराम रमेश ने लोकसभा में बताया कि केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड और राज्य प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड राष्ट्रीय परिवेशी वायु गुणतवत्ता मॉनीटरिंग कार्यक्रम के अंतर्गत पूरे देश में परिवेशी वायु गुणवत्ता की मानीटरिंग कर रहे हैं। इस कार्यक्रम के अंतर्गत, परिवेशी वायु गुणवत्ता को सल्फर डाईआक्साइड (एसओ2), नाइट्रोजन डाईऑक्साइड (एनओ2), धूल कण (एसपीएम) और दस माइक्रोमीटर (पीएम10) से कम आकार के धूल कण के संबंध में 175 शहरों के 424 स्टेशनों पर मॉनीटर किया जा रहा है।

वर्ष 2009 के वायु गुणवत्ता आंकड़े दर्शाते है कि सभी शहरों में एसओ2 के स्तर राष्ट्रीय परिवेशी वायु गुणवत्ता मानकों के अंदर हैं। हालांकि हावड़ा, आसनसोल, कोलकाता, दिल्ली, जमशेदपुर, रायपुर, मुम्बई, नवी मुम्बई और झरिया में एनओ2 के स्तर प्रतिमानकों से अधिक थे। इसी अवधि के दौरन, पीएम10 के स्तर 91 शहरों/नगरों में मानकों से अधिक पाए गए।

जहां तक विश्व के प्रदूषित शहरों की सूची में क्रम का संबंध है, विश्व के सर्वाधिक शहरों का क्रम देने के लिए कोई मानक कार्यपध्दति नहीं है। हालांकि विभिन्न संगठनों से भिन्न-भिन्न पैमानों के आधार पर विश्व के सार्वधिक शहरों का क्रम तैयार किया है। इन महानगरों की संख्या 35 हैं।

एक नज़र

कैमरे की नज़र से...

Loading...

ई-अख़बार

Like On Facebook

Blog

  • तुमको जब भी क़रीब पाती हूं... - मुहब्बत का रिश्ता जिस्म से नहीं होता...बल्कि यह तो वो जज़्बा है जो रूह की गहराइयों में उतर जाता है...इसलिए जिस्म का होना या न होना लाज़िमी नहीं है...बहुत...
  • अक़ीदत के फूल... - अपने आक़ा हज़रत मुहम्मद सल्लल्लाहु अलैहि वसल्लम को समर्पित कलाम... *अक़ीदत के फूल...* मेरे प्यारे आक़ा मेरे ख़ुदा के महबूब ! सल्लल्लाहु अलैहि वसल्लम आपको लाखों स...
  • राहुल ! संघर्ष करो - *फ़िरदौस ख़ान* जीत और हार, धूप और छांव की तरह हुआ करती हैं. वक़्त कभी एक जैसा नहीं रहता. देश पर हुकूमत करने वाली कांग्रेस बेशक आज गर्दिश में है, लेकिन इसके ...

एक झलक

Search

Subscribe via email

Enter your email address:

Delivered by FeedBurner

इसमें शामिल ज़्यादातर तस्वीरें गूगल से साभार ली गई हैं