स्टार न्यूज़ एजेंसी 
आज़मगढ़ (उत्तर प्रदेश). कांग्रेस महासचिव राहुल गांधी  ने समाजवादी पार्टी पर हमला बोलते हुए कहा कि जब कांग्रेस ने पिछड़े मुसलमानों को 4.5 प्रतिशत आरक्षण की घोषणा की तो मुलायम सिंह यादव ने उसकी आलोचना की. उन्होंने मुसलमानों को बरगलाने की कोशिश की. 'मुलायम सिंह ने कहा कि 4.5 प्रतिशत आरक्षण कम है. वे तीन बार मुख्यमंत्री रहे हैं - उन्होंने मुसलमानों को क्यों नहीं दिया आरक्षण? अब क्या वे अपने चुनाव घोषणा पत्र में यह वादा करेंगे कि अगर उनकी सरकार बनती है तो वे मुसलमानों तो 18 प्रतिशत आरक्षण देंगे?”  
आजमगढ़ में एक सभा को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि उम्मीद की साइकिल पंचर हो चुकी है. “उत्तर प्रदेश के लोगों ने तीन-तीन बार सपा को सरकार बनाने का मौक़ा दिया, मगर उन्होंने आपकी आशाओं और उम्मीदों को पूरा नहीं किया. सपा के शासन में आम आदमी पुलिस थानों में अपनी शिकायत भी नहीं लिखा सकता था, क्योंकि थाने गुंडों के क़ब्ज़े में थे. लोगों की रिपोर्ट थाने में दर्ज नहीं होती थी, महिलाओं पर अत्याचार हो रहा था, राज्य का विकास नहीं हुआ,” 
कांग्रेस महासचिव ने कहा कि 2009 में समाजवादी पार्टी के लोगों ने कांग्रेस पार्टी से संपर्क किया और कहा कि उनसे समझौता कर लिया जाए, लेकिन कांग्रेस ने उनके इस प्रस्ताव को ठुकरा दिया और कहा कि आप अपना रास्ता चलिए और कांग्रेस अपने रास्ते चलेगी. इसके बाद उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश में कांग्रेस को अकेले केवल पांच ही सीटें मिलेंगीं, जिस पर हमने कहा कि स्वीकार है, लेकिन कल्याण सिंह के गले नहीं लगेंगे. समाजवादी पार्टी ने राजनीतिक फ़ायदे के लिए कल्याण सिंह को गले लगाया. लोकसभा चुनाव के बाद उत्तर प्रदेश की जनता ने कांग्रेस को 22 सीटें दीं, जबकि समाजवादी पार्टी को 21 सीटें मिलीं. 
उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी कभी किसी धर्म या फिर किसी ज़ात की बात नहीं करती, केवल विकास की बात करती है, क्योंकि हमारे लिए सब एक हैं. बुनकरों की बात करते हुए राहुल गांधी ने कहा कि कांग्रेस ने बुनकरों को आर्थिक सहायता दी, मगर बुनकरों ने कहा कि यह पैसा भी हाथी खा जाएगा. बुनकरों ने हमसे कहा कि ये पैसे राज्य सरकार को मत भेजिए तो हमने व्यवस्था की है कि पैसे सीधे उनके बैंक खाते में जाएंगे.
उन्होंने कहा कि “मैं यहां चुनाव जीतने नहीं आया हूं.  मैं उत्तर प्रदेश बदलने आया हूं और मैं तब तक यहां से नहीं जाऊंगा,  जब तक मैं उत्तर प्रदेश को बदल नहीं लेता - चाहे कांग्रेस को दो सीटें मिलें या फिर 200 सीटें.” राहुल गांधी ने कहा कि 2004 में हमने वादा किया था कि हम ऐसी सरकार देंगे जो आम आदमी की बात करेगी और हमने यह वादा पूरा किया. देश अब तरक्क़ी कर रहा है और सरकार ग़रीब,  दलित, शोषित, किसान, आदिवासी और उपेक्षित वर्ग के लिए काम कर रही है.
उन्होंने कहा कि '' केंद्र सरकार ने मनरेगा कार्यक्रम शुरू किया जो सीधे काम के हक़ से जुडा हुआ है.  “जब मनरेगा शुरू हुआ तो मायावती ने कहा कि यह बेकार है. उन्होंने सही कहा, क्योंकि उत्तर प्रदेश में उनका हाथी इस योजना का सारा पैसा खा गया. आज अन्य प्रदेशों में मनरेगा लाखों लोगों के जीवन में बदलाव ला रहा है. इससे उन्हें रोज़गार और आत्म-सम्मान मिला है. अब हम खाद्य सुरक्षा क़ानून ला रहे हैं, तो मायावती जी कहती हैं कि यह भी बेकार है. इस क़ानून के बाद किसी को भूखा नहीं रहना होगा और हर परिवार को 35 किलो अनाज मिलेगा. राहुल गांधी ने कहा कि अगर किसी को सफल नेता बनना है तो उसे गांव में जाना होगा, लोगों से मिलना होगा, उनसे बात करके उनकी समस्याओं को सुनना होगा. तभी उसका समाधान हो सकता है. बिना ऐसा करे सरकार नहीं चलती और न ही कोई काम होता है.
उन्होंने कहा कि मै ऐसा इसलिए करता हूं, ताकि मैं लोगों का दुख-दर्द समझ सकूं. विपक्ष के लोग मेरा मज़ाक़ उड़ाते हैं, लेकिन उत्तर प्रदेश में पिछले 22 सालों में रही सरकार के लोगों ने ऐसा नहीं किया. इसीलिए आज उत्तर प्रदेश इतना पिछड़ गया है. 
राहुल गांधी गांधी ने कहा कि, “मैं सात सालों से राजनीति में हूं. मैं दिल्ली में बैठता हूं, अधिकारियों से बात करता हूं, गांवों  में जाता हूं, लोगों से बात करता हूं. जितनी जानकारी मुझे आप लोगों से मिली है, उतनी किसी और से नहीं मिली. आप लोगों ने मुझे बहुत कुछ सिखाया है. मैं आप लोगों का हाथ पकड़ कर विकास का काम करना चाहता हूं“
बीजेपी पर हमला करते हुए उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी के लोग एसी कमरों में बैठकर कह देते हैं कि हिंदुस्तान चमक रहा है, लेकिन अगर किसी ने एक बार अपनी आंखों से गांव देख लिया तो उसे ऐसी बात करने में शर्म आएगी. उन्होंने बताया कि केंद्र सरकार ने उत्तर प्रदेश के लोगों के विकास के लिए कई योजनाओं के तहत हज़ारों करोड़ रुपये भेजे, लेकिन मायावती जी ने कहा कि किसी को फ़ायदा नहीं हुआ. अगर कोई महाराष्ट्र, हरियाणा, केरल या दिल्ली जाकर देखें तो उन्हें पता चल जाएगा कि विकास योजनाओं से उन राज्यों के लोगों को फ़ायदा हुआ है या नहीं. जब तक उत्तर प्रदेश में ऐसी सरकार रहेगी, तब तक किसी को फ़ायदा नहीं हो सकता.
राहुल गांधी ने कहा कि आप लोगों ने 22 साल ऐसी सरकारें चुनी हैं, जो विकास को छोड़ कर बाक़ी सब बातें करती हैं. अब पांच साल के लिए कांग्रेस को चुनिए और फ़र्क़ देखिए. केंद्र में आपकी सरकार है और अगर यूपी में भी आपकी सरकार होगी तो तेज़ी से विकास होगा. 

एक नज़र

कैमरे की नज़र से...

Loading...

ई-अख़बार

Like On Facebook

Blog

  • किसी का चले जाना - ज़िन्दगी में कितने लोग ऐसे होते हैं, जिन्हें हम जानते हैं, लेकिन उनसे कोई राब्ता नहीं रहता... अचानक एक अरसे बाद पता चलता है कि अब वह शख़्स इस दुनिया में नही...
  • मेरी पहचान अली हो - हज़रत मुहम्मद सल्लल्लाहु अलैहि वसल्लम फ़रमाते हैं- ऐ अली (अस) तुमसे मोमिन ही मुहब्बत करेगा और सिर्फ़ मुनाफ़ि़क़ ही तुमसे दुश्मनी करेगा तकबीर अली हो मेरी अज़ान अल...
  • राहुल ! संघर्ष करो - *फ़िरदौस ख़ान* जीत और हार, धूप और छांव की तरह हुआ करती हैं. वक़्त कभी एक जैसा नहीं रहता. देश पर हुकूमत करने वाली कांग्रेस बेशक आज गर्दिश में है, लेकिन इसके ...

एक झलक

Search

Subscribe via email

Enter your email address:

Delivered by FeedBurner

इसमें शामिल ज़्यादातर तस्वीरें गूगल से साभार ली गई हैं