अहमदाबाद (गुजरात). गुजरात की जेलों में 240 मुस्लिम बंदी हिरासत में हैं. इसके बाद 846 दोषी और 1724 अंडरट्रायल हैं. यह पूरे देश के मुस्लिम बंदियों की एक तिहाई संख्या है.
गृह मंत्रालय की ओर से जारी आंकड़ों से यह ख़ुलासा हुआ है. इन आकंड़ों के अनुसार भारत में 82190 मुसलमान जेल और पुलिस हिरासत में हैं. इनमें 21,550 दोषी, 59550 अंडरट्रायल और 658 लॉक अप में हैं. गुजरात में 58.6 लाख मुस्लिम हैं, जो कि वहां की आबादी का 9.7 फ़ीसद है. लेकिन मुस्लिम बंदियों की बात करें, तो यह देश का 36.5 प्रतिशत है. गुजरात के बाद दूसरा नंबर तमिलनाडु का है. यहां पर 220 मुस्लिम बंदी है. उत्‍तर प्रदेश में केवल 45 बंदी हैं, लेकिन यहां पर दोषियों की तादाद 5040 और 17858 अंडरट्रायल हैं. अहम बात है कि आतंकवाद से जूझ रहे जम्‍मू कश्‍मीर में भी केवल 35 बंदी हैं. यहां पर 153 दोषी क़रार और 1125 अंडरट्रायल मुस्लिम हैं.
मानवाधिकार कार्यकर्ताओं का आरोप है कि गुजरात में मुसलमानों को निशाना बनाकर जेल में डाला जा रहा है. आतंकवाद रोधी क़ानूनों का उनके ख़िलाफ़ इस्‍तेमाल किया जा रहा है. हालांकि सरकार और पुलिस ने इससे इनकार किया है. सरकार का कहना है कि किसी व्‍यक्ति को निशाना नहीं बनाया जा रहा.

एक नज़र

कैमरे की नज़र से...

Loading...

ई-अख़बार

Like On Facebook

Blog

  • ज़िन्दगी की हथेली पर मौत की लकीरें हैं... - मेरे महबूब ! तुमको पाना और खो देना ज़िन्दगी के दो मौसम हैं बिल्कुल प्यास और समन्दर की तरह या शायद ज़िन्दगी और मौत की तरह लेकिन अज़ल से अबद तक यही रिवायत...
  • सबके लिए दुआ... - मेरा ख़ुदा बड़ा रहीम और करीम है... बेशक हमसे दुआएं मांगनी नहीं आतीं... हमने देखा है कि जब दुआ होती है, तो मोमिनों के लिए ही दुआ की जाती है... हमसे कई लोगों न...
  • लोहड़ी, जो रस्म ही रह गई... - *फ़िरदौस ख़ान* तीज-त्यौहार हमारी तहज़ीब और रवायतों को क़ायम रखे हुए हैं. ये ख़ुशियों के ख़ज़ाने भी हैं. ये हमें ख़ुशी के मौक़े देते हैं. ख़ुश होने के बहाने देते हैं....

एक झलक

Search

Subscribe via email

Enter your email address:

Delivered by FeedBurner

इसमें शामिल ज़्यादातर तस्वीरें गूगल से साभार ली गई हैं