स्टार न्यूज़ एजेंसी
गोरखपुर (उत्तर प्रदेश).
ग़रीबों का पैसा खाने वाले लखनऊ के जादुई हाथी को तीन चार लोग मिलकर चलाते हैं, इसी हाथी को पहले बाबू सिंह कुशवाहा चलाते थे. कुछ दिन पहले पूरे देश में भ्रष्टाचार के विरोध में रथयात्रा निकालने वाले आडवाणी जी ने उत्तर प्रदेश में भ्रष्टाचार की रेस में सबसे आगे रहे बाबू सिंह कुशवाहा को अपनी पार्टी में शामिल कर लिया.
पिपराईच में चुनावी सभा में कांग्रेस महासचिव राहुल गांधी ने भाजपा को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि भ्रष्टाचारी कुशवाहा ने दिल्ली के ख़ूब चक्कर काटे और कांग्रेस पार्टी में शामिल कर बचाने की गुहार लागाई, लेकिन हमने कहा कि आप जेल जाओगे, हम आपको अपनी पार्टी में नहीं लेंगे न ही बचाएंगे, लेकिन भाजपा ने क्या किया?
उन्होंने कहा कि पूर्वांचल के गोरखपुर में हर साल हज़ारों बच्चे इंसेफेलाईटिस से मरते हैं. केंद्र सरकार द्वारा स्वास्थ्य सेवाओं में सुधार के लिए भेजे गए यही पैसे कुशवाहा ने हड़प लिए और भाजपा ने कुशवाहा को लपक लिया. उन्होंने कहा कि भाजपा वाले पहले राम को बेचते थे, अब कुशवाहा ने भाजपा को ख़रीद लिया. कुशवाहा जैसे लोगों का भ्रष्टाचार भारतीय युवा कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने आरटीआई के ज़रिये पकड़ा. उसी कुशवाहा को भाजपा ने गले लगा लिया.
पिछली सभी चुनावी सभाओं में राहुल गांधी जो कहते रहे हैं, उसे तो उन्होंने दोहराया ही, लेकिन पहली बार कांग्रेस महासचिव ने भ्रष्टाचार के मुद्दे पर भाजपा के दोहरे चरित्र को जनता के सामने पेश किया और कहा कि 2004 यूपीए सरकार वादे के अनुसार आम आदमी, दलित, पिछड़े, कमज़ोर आदमी की सरकार चला रही है, जबकि इसी भाजपा ने उस समय अपने एसी कमरों में बैठकर, टीवी देखते हुए नारा गढ़ा कि हिन्दुस्तान चमक रहा है. मगर हिन्दुस्तान चमक नहीं रहा था और आपने इन लोगों को सत्ता से बेदख़ल कर दिया. 22 सालों से भाजपा सपा और बसपा जैसी पार्टियां इस प्रदेश को लूट रही हैं. पहले भाजपा ने राम के नाम पर वोट मांगे, फिर सपा ने ज़ात  के नाम पर वोट मांगे और उसके शासनकाल में थानों में गुंडे घुसकर अपना क़ब्ज़ा कब्जा जमा लिया. 2007 में जब मायावती सत्ता में आईं तो उन्होंने यहां की जनता को लाठी, डंडा और कुशवाहा दिया. मायावती पांच सालों से राज कर रहीं हैं. अब चुनाव में एक महीना बचा है तो रोज़ एक मंत्री हटा रही हैं और इन भ्रष्ट लोगों को भाजपा अपनी पार्टी में शामिल कर रही है. इन लोगों ने पांच सालों तक प्रदेश की जनता का पैसा चोरी किया है.
राहुल गांधी ने कहा कि ‘‘यह पैसा आपका है, आसमान से नहीं टपका है. आप दिल्ली, हरियाणा, पंजाब जैसे राज्यों में जाकर काम करते हैं तो उससे दिल्ली तक यह पैसा पहुंचता है.’’ उन्होंने यह भी कहा कि हमने मनरेगा शुरू की. हर ग़रीब को 100 दिन रोज़गार  गारंटी के साथ 120 रुपये मज़दूरी दी. पहुंची आप तक? स्वास्थ्य में पैसा दिया. पहुंचा आप तक? जनता ने चिल्लाकर कहा- नहीं. इस पर राहुल गांधी ने कहा कि जो पैसा हम सीधे आपके खाते तक भेजते हैं, केवल वही पहुंचता है.
चाहे वह किसानों को 60,000 करोड़ रुपये हों या बुनकर पैकेज का पैसा. बुनकर पैकेज का ज़िक्र किया तो बुनकरों ने कहा कि चाहे कुछ भी करिये, हमारा पैसा लखनऊ में जादुई हाथी को मत दीजिए.
राहुल गांधी ने कहा कि युवाओं को यहां रोज़गार नहीं मिलता. यहां का युवा दिल्ली, पंजाब, हरियाणा जाकर काम करने को मजबूर है. दिल्ली रात को जब सोती है, उस समय यूपी का मज़दूर अपना परिवार यहां छोड़कर दूसरे राज्यों में काम करता है. उन्होंने सवाल किया कि क्या आपको रोज़गार का हक़ नहीं है?
उन्होंने यह भी कहा कि मैं यहां केवल चुनाव जीतने नहीं, उत्तर प्रदेश को बदलने आया हूं और जब तक उत्तर प्रदेश बदलेगा नहीं मैं यहां से हिलूंगा नहीं. उन्होंने यूपी को बदलाव की ज़रूरत पर जोर देते हुए युवाओं से कहा कि जिस दिन आपने यह ठान लिया, यहां प्रगति आ जाएगी. उन्होंने यह भी कहा कि उत्तर प्रदेश हिन्दुस्तान का सबसे बड़ा प्रदेश है और बदलाव यहां का युवा लेकर आएगा. युवाओं को सोच-समझ कर अपना वोट देना चाहिए.

एक नज़र

कैमरे की नज़र से...

Loading...

ई-अख़बार

Like On Facebook

Blog

  • किसी का चले जाना - ज़िन्दगी में कितने लोग ऐसे होते हैं, जिन्हें हम जानते हैं, लेकिन उनसे कोई राब्ता नहीं रहता... अचानक एक अरसे बाद पता चलता है कि अब वह शख़्स इस दुनिया में नही...
  • मेरी पहचान अली हो - हज़रत मुहम्मद सल्लल्लाहु अलैहि वसल्लम फ़रमाते हैं- ऐ अली (अस) तुमसे मोमिन ही मुहब्बत करेगा और सिर्फ़ मुनाफ़ि़क़ ही तुमसे दुश्मनी करेगा तकबीर अली हो मेरी अज़ान अल...
  • राहुल ! संघर्ष करो - *फ़िरदौस ख़ान* जीत और हार, धूप और छांव की तरह हुआ करती हैं. वक़्त कभी एक जैसा नहीं रहता. देश पर हुकूमत करने वाली कांग्रेस बेशक आज गर्दिश में है, लेकिन इसके ...

एक झलक

Search

Subscribe via email

Enter your email address:

Delivered by FeedBurner

इसमें शामिल ज़्यादातर तस्वीरें गूगल से साभार ली गई हैं