फ़िरदौस ख़ान
कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने आज अमेठी में पार्टी कार्यकर्ताओं और क्षेत्रवासियों से मुलाक़ात की. जनसमूह को संबोधित करते हुए कहा कि काफ़ी सालों से आपकी यह मांग थी की यहां ब्लाक पोस्ट ऑफिस आए और यह मांग हमने आज पूरी कर दी. अमेठी में डिस्ट्रिक्ट पोस्ट ऑफिस बनने वाला है. आज ईमेल का ज़माना है, इंटरनेट का ज़माना है, मगर यहां जो महिलाएं बैठी हैं, जो युवा बैठे हैं, उनको पोस्ट ऑफिस से भी फ़ायदा होता है.

अमेठी के बारे में थोड़ा कहना चाहता हूं आपसे. यहां दो-तीन चीज़ें छोटी हैं. फ़ोकस होना चाहिए, सड़कों पर और विकास पर. एक कमी ज़रूर रहती है यूपी की सरकार कांग्रेस पार्टी की नहीं है, वह कमी यहां रहती है. मगर जो भी हम दिल्ली से कर सकते हैं, वह हम करते हैं. और यहां हम दो चीज़ें कर रहे हैं, जो अमेठी को बदल डालेंगी और इसके बारे में मैं आपको बताना चाहता हूं. यहां किसान सबसे ज़रूरी हैं, अगर हम आगे बढ़ेंगे, तो हम किसान के दम पर आगे बढ़ेंगे और हम यहा फूड चार्ट बनाने का सोच रहे हैं.

फूडचार्ट का मतबल क्या है? 40 फूड प्रोसेसिंग यूनिट हम यहां लगवा रहे हैं. दूध, आम, आंवला, इन चीज़ों को प्रोसेस करने के 40 कारख़ाने आन वाले समय में यहां लगेंगे. हमारा किसान जो उगाता है, सीधा उस कारख़ाने में जाएगा, प्रोसेस होकर फिर बाहर जाएगा. इससे किसान को ज़्यादा से ज़्यादा पैसा सीधे अपने खाते में मिलेगा.

पोस्ट ऑफिस की सोच क्या है? हमारी जो सरकार है दिल्ली में, हमारी सोच है कि ज़्यादा से ज़्यादा पैसा, ज़्यादा से ज़्यादा प्रोग्राम हम डायेरेक्ट जनता के हाथों में पहुंचाएं. आपने आधार कार्ड का नाम सुना है, आधार कार्ड का मतलब क्या है और महिलाओं को अच्छी तरह से सुनना चाहिए, क्योंकि आप समूह में शामिल हैं, तो आपको अच्छे से सुनना चाहिए. आधार कार्ड से जो कि सरकार का पैसा है, मनरेगा का पैसा हुआ, पेंशन का पैसा हुआ, वह सीधा आपके खाते में जाएगा. जो पैसा बीच में से ग़ायब हो जाता है, जो भ्रष्टाचार की बात करते हैं, लोग वह ख़त्म हो जाएगा. जो भी प्रोग्राम हम भेजना चाहते हैं, हम सीधा आम आदमी के हाथ भेजना चाहते हैं और आधार कार्ड से यह बात हम कर पाए.

फूड प्रोसेसिंग प्लांट लगेगा और यहां बहुत सारे लोगों को रोज़गार मिलेगा. और अमेठी एग्रीकलचर का सेंटर बनेगा यूपी में. आज यूपी कहां है, एक्सपोर्ट ग्रुप है, कहां से एक्सपोर्ट होता है, दिल्ली से जाकर एक्सपोर्ट होता है, दिल्ली एयरपोर्ट से जाकर एक्सपोर्ट होता है. हम चाहते हैं हमारा जो आम है, आंवला है रायबरेली से, अमेठी से सीधा एक्सपोर्ट होकर बाहर जाए, तो आपको सबसे ज़्यादा फ़ायदा मिलेगा.

पोस्ट ऑफिस लग रहा है और आपने मुझे बताया है कि आन वाले समय में आप पोस्टल बैंक की सोच रहे हैं. पोस्टल बैंक बनेगा, तो सीधा पैसा आपके खाते में जाएगा. आपको जो लंबे-लंबे चक्कर काटने पड़ते हैं, वो बंद हो जाएंगे. मैं आप सबको बधाई देना चाहता हुं कि यहां आपका ब्लाक पोस्ट ऑफिस आया है. अमेठी में डिस्ट्रिक्ट पोस्ट ऑफिस आया है. और हम एक साथ मिलकर युवाओं के साथ, महिलाओं के साथ अमेठी, रायबरेली, और उत्तर प्रदेश को बदलेंगे.

आख़िरी बात कहना चाहता हूं यहां हिन्दुस्तान पेपर मिल आ रहा है. तक़रिबन 10 हज़ार डायेरेक्ट और इनडायेरेक्ट लोगों को रोज़गार मिलेगा. और पेपर मिल में बांस की और यूकेलिप्टस की ज़रूरत होती है, साथ ही इससे किसानों को भी सीधा लाभ मिलेगा, क्योंकि मिल में काग़ज़ बनाने के लिए उनके उगाये बांस और यूकेलिप्टस के पेड़ों का इस्तेमाल किया जाएगा. हम बदलाव लाने की कोशिश कर रहे हैं. ज़रूर कमी है, क्योंकि राज्य की सरकार हमारी नहीं है. मगर हम अमेठी को आने वाले समय में बिल्कुल बदल डालेंगे. पूरा हिन्दुस्तान देखेगा और कहेगा देखो अमेठी में जैसा विकास हुआ है, वैसा होना भी चाहिए.

एक नज़र

कैमरे की नज़र से...

Loading...

ई-अख़बार

Like On Facebook

Blog

  • ईद तो हो चुकी - एक शनासा ने पूछा- ईद कब है? हमने कहा- ईद तो हो चुकी... उन्होंने हैरत से देखते हुए कहा- अभी तो रमज़ान चल रहे हैं... हमने कहा- ओह... आप उस ईद की बात कर रहे हैं...
  • या ख़ुदा तूने अता फिर कर दिया रमज़ान है... - *फ़िरदौस ख़ान* *मरहबा सद मरहबा आमदे-रमज़ान है* *खिल उठे मुरझाए दिल, ताज़ा हुआ ईमान है* *हम गुनाहगारों पे ये कितना बड़ा अहसान है* *या ख़ुदा तूने अता फिर कर ...
  • राहुल ! संघर्ष करो - *फ़िरदौस ख़ान* जीत और हार, धूप और छांव की तरह हुआ करती हैं. वक़्त कभी एक जैसा नहीं रहता. देश पर हुकूमत करने वाली कांग्रेस बेशक आज गर्दिश में है, लेकिन इसके ...

एक झलक

Search

Subscribe via email

Enter your email address:

Delivered by FeedBurner

इसमें शामिल ज़्यादातर तस्वीरें गूगल से साभार ली गई हैं